रायपुर – रायपुर रेलवे सीबीआई और रेलवे पुलिस ने लोहा चोरी के मामले में बड़ा राजफाश किया है। पकड़े गए चोरी के आरोप में आरपीएफ के दो जवान समेत 11 लोगों को गिरफ्तार कर जीआरपी ने उनके खिलाफ आरपी (यूपी) एक्ट के तहत केस दर्ज किया। सीबीआई रायपुर और रेलवे सुरक्षा बल पोस्ट भाटापारा ने मिलकर यह कार्रवाई की है।गिरफ्तार किए गए सभी आरोपितों की विशेष रेलवे कोर्ट ने जमानत निरस्त कर जेल भेजने का आदेश दिया।

मिली जानकारी के अनुसार सीबीआई डिटेक्टिव विंग रायपुर और रेलवे सुरक्षा बल भाटापारा की टीम ने मांढर स्टेशन पर बुक की गई रेलवे संपत्ति चोरी के आरोप में मांढर स्टेशन पोर्टर राकेश कुमार यादव और रामचंद्र निषाद, रेलवे सुरक्षा बल के हेड कांस्टेबल एके पात्रे, कांस्टेबल मोहित कुमार के साथ एक महिला कबाड़ी शैलेंद्री सायतोड़े,कबाड़ी के वाहन चालक चेहर गर्ग, अशोक जयसिंह,भागवत साहू, संदीप यादव, हुमन यादव समेत 11 आरोपितों को गिरफ्तार कर उनके खिलाफ रेल संपत्ति अवैध कब्जा अधिनियम के तहत केस दर्ज किया।सभी आरोपितों के खिलाफ रेलवे सुरक्षा बल ने धारा 3(ए) आरपी(यूपी) एक्ट के तहत भी कार्रवाई कर मामला विशेष रेलवे कोर्ट रायपुर में पेश किया, जहां से सभी आरोपितों को जेल भेज दिया गया।

ये सामान हुए जब्त

रेलवे का लोहा चोरी होने पर इसकी जानकारी जुटाने में रेलवे पुलिस जुटी थी।सटीक जानकारी पर पकड़े गए आरोपितों से जब्त किए गए रेलवे संपत्ति में 1544.02 किलो लोहा है। इसकी कीमत रेलवे सुरक्षा बल ने 15 हजार रुपये बताया है।इस रेलवे सुरक्षा बल के जवानों की मिलीभगत से हो रही लोहे की चोरी के राजफाश से रेल मंडल में हड़कंप मचा हुआ है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.