मुख्यमंत्री भूपेश बघेल सरकार द्वारा महिलाओं को सुरक्षा और रोजगार देने की पहल एक सराहनीय कदम

नगर निगम गार्डन में लोगों ने उत्साह के साथ सुना रेडियो वार्ता लोकवाणी

रायपुर – प्रदेश के सभी अकाशवाणी केन्द्रों से रीले होने वाली मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के मासिक वार्ता कार्यक्रम लोकवाणी को आज नगर निगम गार्डन में लोगों ने उत्साह के साथ सुना। मुख्यमंत्री बघेल के लोकवाणी कार्यक्रम सुनने के बाद प्रतिक्रिया देते हुए बैजनाथ पारा निवासी नईम रजा नम्मू ने कहा कि मुख्यमंत्री भूपेश सरकार द्वारा प्रदेश की महिलाओं को सुरक्षा और रोजगार देने की पहल एक सराहनीय कदम है।भूपेश की सरकार ने ग्रामीणों और दूरस्थ वनांचलों की महिलाओं को बिहान और अन्य स्व-सहायता के समूहों के माध्यम से परम्परागत व्यवसाय से जोड़कर रोजगार देने का काम कर रही हैं। इसके साथ ही ग्रामीणों तक बैंकिग सेवा पहुंचाने के लिए समूह की महिलाओं में से ही बैंक सखी का भी प्रशिक्षण प्रदान कर उन्हें बैंकिग सेवाओं से जोड़ने का प्रयास उल्लेखनीय कार्य है।

बैजनाथ पारा के ही असरफ प्रधान ने लोकवाणी कार्यक्रम सुनने के बाद कहा कि प्रदेश में महिलाओं को सम्मान और अधिकार दिलाने का काम मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की सरकार कर रही हैं। यह प्रशंसनीय है।

असरफ ने कहा कि पंचायत और नगरीय निकाय निर्वाचनों में महिलाओं को अधिकार संपन्न बनने के लिए आरक्षण दिया जाना भी एक उल्लेखनीय पहल है, इससे निश्चित ही महिलाओं को आगे बढ़ने और तरक्की करने में सहायता मिलेगी। श्री असरफ ने कहा कि लोकवाणी कार्यक्रम में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से समूह की महिलाओं ने सुरक्षा की दृष्टिकोण से प्रदेश में परिवहन सेवा पुनः प्रारंभ करने की मांग की।

मुख्यमंत्री ने उन महिलाओं को लोकवाणी कार्यक्रम से ही उनकी सुरक्षा और व्यवस्था के लिए आश्वश्त किया। मुख्यमंत्री बघेल द्वारा नारी निकेतन में रह रही विवाह योग्य युवतियों का पिता बनकर विवाह कराना, कन्यादान करना उन्हें आर्शीवाद प्रदान करना अनुकरणीय पहल है। इससे समाज में लोगों को प्रेरणा मिलेगी और बेटियों की सुरक्षा के लिए लोग आगे आएंगे।

मुख्यमंत्री की लोकवाणी वार्ता सुन रहे अन्य लोगों ने भी महिलाओं की विकास और सशक्तिकरण के लिए महिलाओं पर केन्द्रित इस कार्यक्रम के लिए मुख्यमंत्री को धन्यवाद दिया। लोकवाणी कार्यक्रम को जोन क्रमांक-4 के कमिश्नर लोकेश चन्द्रवंशी सहित शिव भोयर,विनय ओझा, मोईन बारी, नासीर भाई, शेखर सिंह तथा अन्य लोगों ने भी उत्साह के साथ लोकवाणी सुना।

Leave A Reply

Your email address will not be published.